आखिर क्यों लोग काला धागा बांधते है? और काला धागा बांधने के फायदे

लोग हाथों या पैरों में काला धागा क्यों बांधते हैं? काला धागा बांधने के फायदे क्या हैं? (kala dhaga badhne ke fayde)

हेल्लो दोस्तों स्वागत है आज की इस नई पोस्ट पर मैं हूँ रोहित  और आज की पोस्ट में बताने जा रहा हूं काले धागे के बारे में, जी हाँ दोस्तों अक्सर आपने काले धागे को छोटे बच्चों, लड़के-लड़कियों के हाथ पैर या कमर में बांधे देखा होगा। तो मन में एक सवाल उठता है कि आखिर इस काले धागे का राज क्या है।

तो दोस्तों ऐसा हो ही नहीं सकता है कि आपके मन में ये सवाल हो और मैं आपका कन्फ्यूजन दूर न करूँ। तो चलिए बताते हैं आखिर क्यो लोग हाथों या पैरों में काले धागे को बांधते है? और इसका वैज्ञानिक क्या राज है। तो बने रहिए हमारे साथ।

 काला धागा बांधने के फायदे -  kala dhaga badhne ke fayde
काला धागा बांधने के फायदेkala dhaga badhne ke fayde

क्या कारण है कि लोग अपने हाथ या पैर में काला धागा बाँधते हैं ?

ऐसा माना जाता है कि काला धागा जहां एक ओर बुरी नजर से बचाता है वहीं दूसरी तरफ आपकी किस्मत भी बदल सकता है। काला धागा शरीर की किसी भी ऊर्जा (एनर्जी) को सोखकर बाहर नहीं निकलने देता है। वैज्ञानिक तौर पर भी काले धागे के बांधने बहुत फायदे हैं और इस बात को वैज्ञानिको ने भी स्वीकार किया है।

ऐसा भी माना जाता है कि बार-बार बीमार पड़ने वाले बच्चों के हाथों या पैरों तथा कमर में काला धागा बांध देने से वो बीमार नहीं पड़ते।

ज्योतिषशात्र के अनुसार काला धागा बांधने के फायदेkala dhaga badhne ke fayde

ज्योतिषशात्र में भी शनि के बुरे प्रभावो से बचने के लिए काला धागा बांधने का जिक्र किया गया है। तो अगर आप काले धागे को बांधते हैं तो आप शनि के बुरे प्रभावों से बच सकते हैं और आप पर शनि देव की कृपा  बनी रहेगी। तो आइये अब जान लेते हैं काला धागा बांधने के वैज्ञानिक कारण क्या हैं?

काला धागा बांधने के वैज्ञानिक कारण क्या हैं?

जैसा कि आप सभी जानते हैं हमारा शरीर पंच तत्वों से मिलकर बना है। इन पंच तत्वों से मिलने वाली एनर्जी से हमारे शरीर का संचालन होता है। सूर्य की किरणों में बहुत सारी ऐसी एनर्जी होती है जो हम तक नहीं पहुँच पाती। चूंकि काला रंग ऊष्मा का अवशोषक होता है इसलिए काले रंग का धागा बांधने से यह सूर्य की किरणों में मौजूद उन सभी एनर्जी को अवशोषित कर हमारे शरीर में पहुँचाता है। जिससे शरीर में कई सकारात्मक बदलाव आते हैं और शरीर में कई सारे रोगों से भी मुक्ति मिलती है।

तो ये हैं काला धागा बांधने के फायदे। लोग काले धागे का प्रयोग कई तरीके से करते हैं। कुछ लोग काला धागा पैरों में बांधते हैं, कुछ लोग हाथों की कलाईयों तथा कमर में बांधते हैं तो यहीं कुछ इसका माला भी बनाकर गले में पहनते हैं। लेकिन तरीका जो भी हो सभी से लाभ ही मिलता है और आकर्षक दिखने का कारण भी बनता हैं । 

 

ये भी पढ़े –

👉 हमारे दिमाग के बारे में रोचक बातें

👉 How to Generate ATM PIN Code in Hindi

👉 Internet banking ID Kaise Banaye

 

आशा करता हूँ कि यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी । यदि इससे संबंधित कोई सवाल या कोई सुझाव है तो, हमें नीचे comment करके बताये । और इस पोस्ट को जरूर अपने FriendsRelative को, Facebook, twitter Whats App जैसे सोशल मीडिया में जरूर Share करें ।

और हमारे Website TechnicalRpost.in को  Subscribe Follow करे, और नई पोस्ट की नोटिफिकेशन तुरंत पाए ।

हमारे ब्लॉग पर आने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद !!

 

काला धागा कौन से दिन बांधना चाहिए?

काला धागा को शनिवार के दिन बांधना अच्छा माना जाता है। क्योंकि काला रंग शनि ग्रह का प्रतीक है।

गले में कौन सा धागा पहनना चाहिए?

गले में काला धागा में पहनने से स्वास्थ सही रहता है। काला धागा बुरी नजर से भी बचाता है। और साथ ही अगर किसी पर नकारात्मक साया है तो उन्हें शनिवार के दिन भैरव मंदिर से लाया गया काला धागा पहनना चाहिए।

2 thoughts on “आखिर क्यों लोग काला धागा बांधते है? और काला धागा बांधने के फायदे”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.