रोम (ROM) क्या है? RAM और ROM में क्या अंतर है पूरी जानकारी हिन्दी में

रोम (ROM) क्या है? RAM और ROM में क्या अंतर है पूरी जानकारी हिन्दी में। (What is ROM)

रोम (ROM) क्या है? RAM और ROM में क्या अंतर है

हमने पिछले पोस्ट में जाना था RAM क्या है? अगर आप ने वो पोस्ट नही पढ़ी है तो आप RAM क्या है? पूरी जानकारी हिन्दी में जरूर पढ़िए। आज हम रोम के बारे में जानेंगे व रैम और रोम में क्या अंतर होता है? तो बने रहिए इस पोस्ट पर हेलो दोस्तों मै हूँ रोहित और आप सभी का Technical R Post पर स्वागत है।

ROM क्या है – What is ROM in Hindi

रोम (ROM) क्या है? RAM और ROM में क्या अंतर है पूरी जानकारी हिन्दी में
रोम (ROM) क्या है? RAM और ROM में क्या अंतर है पूरी जानकारी हिन्दी में

ROM का फुल फॉर्म Read Only Memory होता है यह कंप्यूटर या मोबाइल की स्थाई मेमरी होती है जैसा की नाम से स्पष्ट है इसे केवल Read किया जा सकता है इसमें कोई भी बदलाव नही किया जा सकता इसलिए इसका नाम ROM पड़ा। इस Memory को कंप्यूटर निर्माता द्वारा ही प्रोग्राम किया जाता है और इसमें कंप्यूटर या मोबाइल की आवश्यकतानुसार इसमें Program / Software डाला जाता है। रोम में स्टोर डाटा पॉवर ऑफ होने पर भी कभी नष्ट नही होता है। अतः ROM Non-Volatile Storage भी कहलाता है।

आप जो भी  Application मोबाइल या कंप्यूटर मे इंस्टॉल करते वह सब ROM में ही इंस्टॉल होता है।

 

रोम के विभिन्न प्रकार होते हैं

  • PROM
  • EPROM
  • EEPROM

PROM क्या है?

PROM (Programmable Read Only Memory) ऐसा रोम होता है जिसमें एक बार स्टोर किया गया डाटा/प्रोग्राम को मिटाया या एडिट नही किया जा सकता । इन्हें विशेष आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए बनाया जाता है। और PROM को एक बार प्रोग्राम करने के बाद दोबारा प्रोग्राम नही किया जा सकता।

EPROM क्या है?

EPROM (Erasable Programmable Read Only Memory), PROM के समान ही होता है लेकिन इसमें स्टोर प्रोग्रामों को पराबैगनी किरणों (Ultraviolet rays) की उपस्थित में मिटाया जा सकता है। और साथ ही नये प्रोग्राम स्टोर किया जा सकता है। लेकिन यह भी ठीक नही था इसलिए एक नए EEPROM का अविष्कार किया गया।

EEPROM क्या है?

EEPROM (Electrical Erasable Programmable Read Only Memory) एक New Technique पर आधारित रोम है। जिसमें स्टोर डाटा या प्रोग्राम को Electric current से मिटाया तथा रिप्रोग्राम भी किया जा सकता है। जो की सबसे आसान तरीका है तथा यह रियूजेवल है।

RAM और ROM में क्या अंतर है?

रैम अर्थात रैण्डम एक्सेस मेमोरी तथा रोम रीड ओनली मेमोरी दोनों ही कंप्यूटर की Primary Memory है। फिर भी इन दोनों में काफी अंतर है जो हर कंप्यूटर यूजर जानना चाहिए।

  • RAM कंप्यूटर की अस्थाई (Temporary) मेमोरी है जबकि ROM कंप्यूटर की स्थाई (Permanent) मेमोरी है।
  • रैम में डाटा बार-बार लिखते तथा मिटते रहते हैं जबकि रोम में डाटा, कंपनी के द्वारा ही लिखा होता है।
  • RAM में पॉवर ऑफ होते ही स्टोर सभी डाटा मिट जाता है इसके विपरीत ROM में स्टोर डाटा किसी भी स्थित में नष्ट नहीं होता है।
  • RAM कई storage क्षमताओं में होता है जबकि ROM में ऐसा नही होता इसका स्टोरेज क्षमता से कोई संबंध नही है।
  • RAM का कार्य कंप्यूटर के on होने के बाद शुरू होता है लेकिन ROM का कार्य कंप्यूटर या मोबाइल को on करने में होता है।
  • रैम एक टेबल की तरह है जिस पर हम कोई भी सामान लाकर रख के कार्य करते हैं जबकि रोम एक आलमारी का काम करती जहॉ पर सभी जरूरी सामान स्टोर करके रखा जाता है।

आज आपने क्या सीखा?

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट में आपने जाना कि रोम क्या है? रोम कितने प्रकार का होता है इसके अलावा रैम तथा रोम में क्या अंतर है। आप हमें कमेंट करके बताए यह पोस्ट कैसी लगी और ऐसे ही इन्ट्रेस्टिंग जानकारी के लिए हमारे Blog को Subscribe करना ना भूले। और इस पोस्ट को अपने फ्रेन्डस के साथ शेयर जरूर करें।

इसे भी जानें

3 thoughts on “रोम (ROM) क्या है? RAM और ROM में क्या अंतर है पूरी जानकारी हिन्दी में”

Leave a Comment